पांचवें चरण में जानिए क्या हैं मधुबनी का हाल-…रवि शर्मा के साथ….

बिहार-पांचवे चरण का मतदान आगामी 06 मई को होना है.इस चरण में बिहार कि पांच लोकसभा सीटों पर चुनाव होना है.जिनमे कुल 82 उम्मीदवार अपना भाग्य आजमाएंगे.ये पांच सीटें क्रमशः सीतामढ़ी, मधुबनी, मुजफ्फरपुर,सारण और हाजीपुर (सु) है.आइऐ सिलसिलेवार ढंग से इन सभी सीटों,प्रत्याशीयों और आंकड़ों पर डालते हैं एक नजर….

मधुबनी-मधुबनी के चुनावी रण में इस बार भाजपा के पास अपना गढ़ बचाने की चुनौती है.मधुबनी लोकसभा सीट पर इस बार महागठबंधन में दरार आ गई है.महागठबंधन के बंटवारे में यह सीट विकासशील इंसान पार्टी (वी आई पी) के कोटे में आ गई है.मगर यहां से कांग्रेस के कद्दावर नेता रहे डा० शकील अहमद ने महागठबंधन से बगावत कर निर्दलीय पर्चा दाखिल कर दिया है.इस कारण पार्टी ने उनकी सदस्यता भी खत्म कर दी है.डा० शकील अहमद बिहार में कांग्रेस का बड़ा अल्पसंख्यक चेहरा मानें जाते थे.यु तो मधुबनी सीट पर कांग्रेस के साथ साथ राजद का भी दावा था मगर यह सीट बंटवारे में वी आई पी के कोटे में चली गई.अब यहां भाजपा से हुकुमदेव नारायण यादव के बेटे अशोक यादव,वी आई पी के बद्री पुर्वे,और निर्दलीय डा० शकील अहमद समेत कुल 17 उम्मीदवार मैदान में हैं.वही निर्दलीय चुनाव लड़ रहे डा० शकील अहमद को राजद से निष्कासित अली अशरफ फातमी का भी समर्थन प्राप्त है.साथ ही कांग्रेस के स्थानीय कार्यकर्ता भी डा० शकील अहमद के पक्ष में खड़े हैं.ऐसे स्थिती में मुख्य मुकाबला निर्दलीय डा० शकील अहमद और भाजपा के अशोक यादव के बीच ही माना जा रहा है.