वैराग्यानंद उर्फ मिर्ची बाबा निरंजनी अखाड़े से हुये निष्काषित-भोपाल-

अरविन्द तिवारी की रिपोर्ट

भोपाल- भोपाल संसदीय सीट से कांग्रेस उम्मीदवार दिग्विजय सिंह की जीत के लिये मिर्ची यज्ञ कराने वाले बाबा महामंडलेश्वर वैराग्यानंद गिरी उर्फ मिर्ची बाबा की मुश्किलें अब बढ़ चुकी है। मिर्ची बाबा ने दिग्विजय सिंह को जिताने के लिये साढ़े पांच क्विंटल मिर्च का हवन करते हुये मिर्ची यज्ञ कराया था और उस समय संकल्प लिया था कि यदि दिग्विजय सिंह चुनाव हार गये तो वे तुरंत इसी यज्ञ कुंड में जिंदा समाधि ले लेंगे । इस बयान के आधार पर मिर्ची बाबा को निरंजनी अखाड़े से निष्काषित कर दिया गया है । निरंजनी अखाड़े के प्रमुख रविन्द्र पुरी महाराज ने वैराग्यानंद के इस बयान को आपत्तिजनक मानते हुये कहा कि उनका यह बयान अखाड़े की मर्यादा के विपरीत है इसलिये उन्हें अखाड़े से निष्काषित करने का निर्णय लिया गया है। उन्होंने कहा कि वैराग्यानंद का अब अखाड़े से कोई संबंध नहीं है।