दिशा की प्राणिक हीलर एवं गायत्री परिवार की सदस्या अर्चना मिश्रा की असामयीक मृत्यु पर शोक सभा सह जूड़वे ह्र्दयों पर ध्यान का आयोजन-

हरिहरक्षेत्र,हाजीपुर-आज दिशा की प्राणिक हीलर एवं सारण जिला गायत्री परिवार की सदस्या पुण्यात्मा अर्चना मिश्रा जी की आत्मा की शांति के लिए एवं ज्ञात अज्ञात सभी दिवंगत आत्मा की शांति के लिए “डिवाइन इंडिया साइंस एंड स्पिरिचुअल हैप्पीनेस एसोसिएशन-दिशा”की शाखा “प्राणिक हीलिंग मेडिटेशन एंड ट्रेनिंग सेंटर” के सभागार में गायत्री मंत्र का जप एवं “जूङवें हृदयों पर ध्यान” का आयोजन रखा गया। इस आयोजन में उपस्थित सभी लोगों ने दिवंगत पूण्यात्मा अर्चना मिश्रा जी की असामयीक मृत्यु पर दु:ख जताया,उनकी आत्मा की शांति के लिए गायत्री महामंत्र का जप,पिथ्री मेडिटेशन एवं “जूङवें हृदयों पर ध्यान” किया।


संस्था के संस्थापक सचिव आचार्य राजेश तिवारी जी ने बताया कि सामुहिक ध्यान-जप में बहुत बङी शक्ति होती है,आने वाले दो जून को गायत्री परिवार,हरिद्वार के द्वारा भी पुरे हिन्दुस्तान में प्रात:नौ बजे से साढे बारह बजे तक देश-दुनिया के मन-विचार को सकारात्मक बनाने के लिए किया जा रहा है।जिसमें दिशा के सदस्यगण भी हजारों-हजार कि संख्या में जो जहाँ हैं वहीं से भाग लेंगे।
प्रत्येक गुरुवार को दिशा कार्यालय में भी विभिन्न प्रकार के ध्यान नि:शुल्क कराये एवं सिखाए जाते हैं।


लेकिन आज का ध्यान भारत देश में जो माननीय प्रधानमंत्री शपथ लेने वाले हैं उनका कार्यकाल बहुत अच्छा से हो सभी मंत्री लोग अपने अपने कर्तव्यों को निभाएं इसके लिए भी किया जा रहा है। साथ हि दिशा की प्राणीक हीलर एवं सारण जिला की गायत्री परिवार की सदस्या पुण्यात्मा अर्चना मिश्रा जी की आत्मा की शांति के लिए भी आज का यह गायत्री जप किया गया है। कार्यक्रम को सफल बनाने में दिशा के मिडिया प्रभारी श्री उमेश तिवारी,अनिल तिवारी,सुब्रजित कुमार संजिव,सावित्री देवी, श्रीपति देवी, मास्टर प्रबोध तिवारी,सविता तिवारी, अमित कुमार जिम्मी,अभिषेक कुमार टिंकु, दिनेश तिवारी,
रमेश तिवारी, मुकेश तिवारी, प्रणव, अर्णव,पुष्पांजलि प्रज्ञा,अनुराधा रानी,अन्नपूर्णा भारती,मंजु उपाध्याय,सोनी,मौसम एवं श्रीमती शारदा देवी जी का अहम योगदान रहा।


रिपोर्ट-उमेश तिवारी