थानेदार की पिस्टल से साली ने की ख़ुदकुशी,थानेदार हुआ निलंबित-जशपुर(छग)-..

अरविन्द तिवारी की रिपोर्ट

मृतका

जशपुर — जिले के नारायणपुर थाने में पदस्थ थाना प्रभारी की साली ने थाना कैम्प्स में ही थानेदार की सरकारी पिस्टल से गोली मारकर आत्महत्या कर ली है। उन्हें आनन फानन मे ही अस्पताल ले जाया गया लेकिन तब तक उनकी मौत हो चुकी थी।वैसे तो इस आत्महत्या मामले में अभी तक कोई स्पष्ट कारण सामने नही आया है कि आखिर खुद को गोली मारने के पीछे की कहानी क्या हो सकती है ?? अभी तक जो कुछ सामने आ पाया है उसके मुताबिक मृतिका मानसिक रूप से विक्षिप्त थी। मीडिया को दिये गये औपचारिक बयान में जशपुर पुलिस अधीक्षक शंकर बघेल ने बताया कि मृतिका का मनोरोग चिकित्सक से ईलाज चल रहा था , वह मानसिक रूप से थोड़ा विक्षिप्त थी । पिछले छः माह से वह अपने जीजा सुरेंद्र मानिकपुरी के साथ रह रही थी । सरगुजा IG के सी अग्रवाल ने घटना की जानकारी मिलते ही थानेदार को निलंबित कर जाँच के लिये जशपुर कप्तान को मौक़े पर भेजा है। पुलिस जाँच चल रही है ।
इस संबंध में मिली जानकारी के अनुसार थाना प्रभारी सुरेंद्र मानिकपुरी थाना परिसर में मौजुद शासकीय आवास में पत्नी एवं साली कु वर्षा यादव के साथ रहते थे । कल देर शाम करीब साढ़े सात बजे जब थाना प्रभारी थाने में काम कर रहे थे तभी थाना प्रभारी के शासकीय आवास से गोली चलने और उनकी पत्नी के चिल्लाने की आवाज आयी। पड़ोसी पुलिसकर्मियों के साथ थाना प्रभारी घर के भीतर पहुँचे तो उन्होने पाया कि साली फ़र्श पर औंधे मुँह गिरी हुई थी, उसके सर से ख़ून बह रहा था और सर्विस रिवाल्वर दाहिने कमर के पास पड़ी हुई थी।
इस घटना से पूरे महकमे में हड़कंप मच गया है। उन्हें तत्काल अस्पताल ले जाया गया लेकिन डाक्टर ने उन्हें मृत घोषित कर दिया । सरगुजा आईजी ने इस घटना के पश्चात थानेदार को निलंबित कर दिया है । और जशपुर पुलिस अधीक्षक सहित अधिकारियों को जाँच के लिये भेजकर प्रतिवेदन मँगाया है ।