2019 के लोकसभा चुनाव में आमजनों को जगाने और अच्छे प्रतिनिधि के.चुनाव के लिए अखंड गायत्री जप का आयोजन

हाजीपुर(हरिहर क्षेत्र)-आज अखिल विश्व गायत्री परिवार,वैशाली की शाखा प्रज्ञा महिला मंडल हाजीपुर की ओर से “भारत देश महान बने, 2019 के चुनाव में अच्छे-अच्छे प्रतिनिधि चुनकर आएँ, अच्छी प्रधानमंत्री बनें, इसके लिए जनमानस को जगाने के लिए, अपनी प्रतिभा को जगाने के लिए, अपनी सोई हुई चेतना को जगाने के लिए चैत्र नवरात्री के अवसर पर चैती छठ के महत्वपूर्ण दैवीय अवसर पर अखंड गायत्री जप का आयोजन किया गया। इस आयोजन को संपन्न करवाने के लिए युवा प्रज्ञा युवा मंडल के श्री दिनेश यादव जी पधारे। उन्होंने कहा की परम पूज्य गुरुदेव वेद मूर्ति तपो निष्ठ पंडित श्रीराम शर्मा आचार्य जी ने कहा है कि हम भारत देश के नागरिक हैं हमें अपने नागरिक कर्तव्यों का बहुत ही अच्छे से पालन करना चाहिए इसके लिए यह जरूरी है कि हम चुनाव के समय नेक ईमानदार अच्छे और सच्चे नेता को ही वोट दें ।अपने अमूल्य मत का प्रयोग करें इसके लिए जरूरत है अपनी अंदर की चेतना को झकझोर ने की,सही और गलत क्या है इसकी पहचान करने की लोगों को व्यक्तिगत स्वार्थ के चक्कर में,जातिवाद के चक्कर में संप्रदाय वाद के चक्कर में, ्पार्टीवाद के चक्कर में नहीं पङकर हमें योग्य उम्मीदवार को ही चुनना चाहिए । इसके लिए हम आज गायत्री महामंत्र का सामूहिक जप कर रहे हैं ।सामूहिक जप का प्रभाव बहुत हि महत्वपूर्ण होता है।
इस अवसर पर दिशा के संस्थापक सचिव आचार्य राजेश तिवारी ने कहा कि हम गायत्री साधक प्राणवान बनें, श्रेष्ठ बनें,सुख स्वरूप बनें इसके लिए यह जरूरत है कि हम गायत्री मंत्र का जप सोच-समझकर और जागृत अवस्था में करें।
इस अवसर पर गायत्री परिवार के वैशाली जिला के वरिष्ठ कार्यकर्ता श्री हरि नाथ गांधी जी ने कहा कि आज जरूरत है हम सब को अपने जीवन को साधना मय बनाने की,अपने आप को साधने की आवश्यकता है अपने बुराइयों को समाप्त करने की आवश्यकता है इस अवसर पर प्रज्ञा महिला मंडल की श्रीमती शीला चौधरी श्रीमती उषा चौधरी ने कहा कि हम महिलाएं अब सिर्फ घर में बंद रहना नहीं जानती हैं, हम महिलाएं देश को जगाउँगी, हम महिलाएं, बहनों भाइयों को जगाउँगी, हम महिलाएं अच्छे और योग्य उम्मीदवार को ही चुनुँगी।
श्रीमती शीला बहन जी ने कहा कि आज छठ व्रत का त्योहार है यह चार दिवसीय छठ के अवसर पर भगवान सूर्य के आशीर्वाद दैवीय शक्ति भरपूर मात्रा में विश्व ब्रम्हांड में प्रवाहित होती है।
हम इस अवसर पर अगर अपने आप को ग्रहणशील बनाएं तो यह शक्ति हमारे अंदर समाती है और हम प्राणवान बनते हैं ऊर्जावान बनते हैं और हमारी सारी कष्ट कठिनाइयां दूर होती हैं।
इस अवसर पर अखंड जप के प्रभाव को विस्तार रूप से श्रीमती उषा चौधरी जी ने समझाया।
इस आयोजन को सफल बनाने में श्रीमती विमला चौधरी श्री रवी कांत चौधरी रामचंद्र सिंह उमाकांत जी महेश्वर प्रसाद सिंह जी रजनी अंबिका राधा सिन्हा कृति मोहन रामकली एवं आशा चौधरी नारायणी मालती देवी कीर्ति जी एवं ढेर सारी नर नारियों का सहयोग रहा।
रिपोर्ट-उमेश तिवारी