हर पल मौत के साये मे पल रहे वैशाली के लोग,पुलिस की कार्यशैली पर युवाओं ने उठाए सवाल-

हाजीपुर-शहर मे लगातार बढ़ते अपराध के ग्राफ से आम-आदमी एक अजिब डर मे जीने को विवश है.सबके दिल मे बस एक सवाल कौंध रहा है, अगला कौन..शहर मे कब किसकी बारी आये यह कहना संभव नही है.लगातार हो रहे अपराध और पुलिस की नकारा कार्यशैली से परेशान होकर शहर के सैकड़ो बुद्धिजीवियों और समाजसेवकों ने वैशाली पुलिस अधीक्षक मानवजीत सिंह ढिल्लो से मिलने का प्रयास किया.मगर बेबश लोगों के आक्रोश और भीड़ से घबराए वैशाली पुलिस अधीक्षक अपने आवास और अपने कार्यालय से निकल लिए.गौरतलब है की
वैशाली जिले में लगातार अपराध का ग्राफ बढ़ रहा है.एक के बाद एक हत्या,लुट,हमलों का दौर जारी है.युवाओं के इस टीम का कहना था कि शहर में अपराध बढ़ने के बावजूद वैशाली के पुलिस अधीक्षक लगातार निष्क्रियता के साथ जमे हुए है.आज हत्या किसी की भी हो लेकिन पुरा शहर सहम जाता है और दिल मे सवाल उठता है की अब अगला कौन ?


इस डर में जी रही वैशाली की युवा शक्ति ने आवाज बुलंद की और वैशाली पुलिस अधीक्षक मानवजीत सिंह ढिल्लो से मिलने समाहरणालय पहुंचे। लेकिन शायद पुलिस अधीक्षक को युवाओं की भागीदारी का पता चला और वो कार्यालय नहीं पहुंचे. जिसके बाद युवाओं का रूख पुलिस अधीक्षक मानवजीत सिंह ढिल्लो के आवास की तरफ हुआ वहां उपस्थित कर्मियों ने उनके आने की बात कही मगर पुलिस अधीक्षक वहां भी युवाओं से नहीं मिले.आपको बता दे की इस संबंध मे कल सुबह 9:30 बजे से ही युवाओं का अक्षयवट राय स्टेडियम में आना शुरू हो गया था और देखते ही देखते सैंकड़ों लोगों की भीड़ एकत्रित हो गई थी।

कार्यालय और आवास पर पुलिस अधीक्षक के नहीं मिलने के बाद जिलाधिकारी वैशाली ने बुलाकर सभी लोगों से बातें की। जिलाधिकारी ने कहा कि यह बहुत ही गंभीर स्थिति हैं, जिसके लिए चिंतित हूं। इसके लिए पुलिस अधीक्षक मानवजीत सिंह ढिल्लो से वो बात करेंगे। सुरक्षा के सवाल पर जिलाधिकारी वैशाली ने कहा कि हम अपने संयंत्रों पर बैंकिंग सुविधाओं में सुधार करेंगे,जरूरत पड़ी तो बैंकों की कार्यशैली में भी बदलाव किए जाएंगे ताकि लूटकांड ना हो.उन्होंने कहा कि जरूरतमंद व्यक्तियों की सुरक्षा के लिए सरकारी स्तरों पर बाडीगार्ड की अनुशंसा करूंगा,लेकिन एक-एक व्यक्ति को बाडीगार्ड देना संभव नही है. जिलाधिकारी वैशाली ने पुलिस अधीक्षक मानवजीत सिंह ढिल्लो से बात कर सुरक्षा की जिम्मेदारी तय करने का आश्वासन दिया।अपनी सुरक्षा संबंधी मांगों को लेकर पहुंची युवाओं की टीम ने बताया कि जब भी किसी भी प्रकार का आंदोलन आम आवाम़ के द्वारा किया जाता है तो पुलिस मध्यस्थता करती हैं.

आज तक जो भी मध्यस्थता करने मे पुलिस टीम होती हैं तत्काल माहौल शांत कराने के बाद नींद से सो जाती हैं. आज तक किसी प्रकार से कोई पुलिस टीम अपनी जिम्मेदारी को नहीं निभाते दिखते हैं। उन्होने आरोप लगाया की जो सामाजिक कार्यकर्ता आवाज उठाता हैं उसे दबाने के लिए अपराधियों से उनकी हत्या कराने की साजिश रची जाती है.उन्होने आरोप लगाया कि वर्तमान पुलिस अधीक्षक के कार्यकाल में जो भी हत्या के मामले हुए लगभग सभी हत्या के मामलों को घर में ही उलझाकर रख दिया जाता है या मारे गये लोगों को ही अपराधी घोषित कर दिया जा रहा हैं.उन्होंने कहा कि किसी भी मामले की निष्पक्ष जांच और जो भी गुनहगार हो उसे सजा हो,यह कानून और पुलिस अधीक्षक मानवजीत सिंह ढिल्लो का संवैधानिक कर्तव्य है। लगातार हो रही हत्या के कारण आज पुरा शहर डर के साये में जी रहा हैऔर पुलिस अधीक्षक ड्राईविंग लाइसेंस, इंश्योरेंस,गाड़ी के कागज, हेलमेट,जुते चेक करने में व्यस्त हैं।

जिले मे बालू और शराब माफियाओं का राज बढ़ता जा रहा है.अगर वैशाली अपराधमुक्त नही बन सकती तो वैशाली को पुलिस मुक्त बनाया जाए. इस मुहिम को मजबूत करने का प्रयास युवाओं के द्वारा आगे भी जारी रहेगा.युवाओं के इस संवैधानिक आंदोलन में मुख्य रूप से राकेश कुमार यादव,सतीश कुमार जायसवाल, विकास सिंह,सत्येन्द्र यादव, पंकज सिंह,अनिश रंजन,रोहित कुमार,विशाल कुमार,दिवाकर यादव,मनीष तिवारी,छोटू सिंह चंदेल,संजीव कुमार सिंह,मुकेश कुमार,संतोष कुमार,रौशन कुमार,चंदन कुमार,प्रेम बहादुर सिंह,सोम कुमार सिंह,विनोद कुमार,चंदु कुमार साह,कृष्ण बल्लभ,मो. नसीम,नीसू सिंह, शिवम्,राजू झा,प्रियदर्शिनी, चंचल,कुंदन,अजीत सिंह, ललित राय,नरेश कुमार,अनिल कुमार,स्थूल कुमार,विपिन कुमार,विश्वजीत कुमार,राहुल कुमार,अभिषेक कुमार,पवन राय,सुबोध कुमार,कुंदन यादव, विशाल यादव,नंद किशोर साहू, उमेश सिंह,राजीव ब्रहृर्षी,मनीष कुमार सिंह आदि मौजुद थे साथ ही जिले के विभिन्न क्षेत्रों से आए सैंकड़ों लोगों की मौजूदगी रही.जिलाधिकारी से मिलने के बाद उपस्थिति युवाओं की टीम में यह आपसी सहमति बनी की अब अगर दो दिनों में वैशाली पुलिस अधीक्षक मानवजीत सिंह ढिल्लो ने कोई निडरतापुर्ण कार्रवाई नहीं की तो हम सब अनिश्चितकालीन हड़ताल और धरना प्रदर्शन कर वैशाली को बंद कर करेंगे.

Report By Manish Tiwari