संकल्प रैली के विरोध में न्यायीक जनप्रतिनिधियों का संकल्प,कहीं निकल न जाए संकल्प रैली कि हवा

पटना-आगामी 3 मार्च को पटना के गांधी मैदान में आयोजित होने वाले संकल्प रैली में होने वाली भीड़ में पंचायत प्रतिनिधियों कि सहभागिता के संबंध में विगत दिनों जनता दल यू के नेता आरसीपी सिह एवं श्वेता विश्वास के द्वारा मिडिया को दिए बयान एवं अखबारों मे छपे बयान को लेकर आज बिहार प्रदेश पंच सरपंच संघ के प्रदेश अध्यक्ष अमोद कुमार निराला ने एक प्रेस विज्ञप्ति जारी कर उस बयान का खण्डन किया और बिहार प्रदेश पंच-सरपंच संघ के द्वारा विरोध करने कि बात कही!बिहार सरकार सत्ताधारी दलो के द्वारा 3 मार्च को आयोजित संकल्प रैली मे बिहार के सरपंच उपसरपंच एवं पंचगण के किसी भी परिस्थिति मे भाग नही लेने कि बात कही।
संघ के प्रदेश अध्यक्ष श्री निराला ने बताया कि पिछले 12 वर्षो से सुबे के ग्राम कचहरी और इसके निर्वाचित लगभग सवा लाख जनप्रतिनिधि पंच परमेश्वर के साथ सौतेलेपन का व्यवहार नितीश कुमार और सुशील मोदी कर रहे है,जब जब भीड़ जुटाने और वोट लेने की बात होती है!तब तब लोक लुभावन तथा मनभावन झूठे वादा करके हम सब को ठगते आए है!अब यह सब नही चलेगा!राज्य के 80% जनता के बीच सम्मान इज्जत पाने वाले पंच परमेश्वर भाई बहनो का रोज अपमान करते है जो राष्ट्र पिता महात्मा गांधी के सपनो का अपमान है!ग्राम कचहरी के प्रतिनिधि औरसरकार के उदासीन रवैये के खिलाफ पंच परमेश्वर एक जूट है!सरपंच,उपसरपंच तथा पंचगण किसी पार्टी और नेताओ का गुलाम नही है।नीतिश जी ने ग्राम कचहरी का चुनाव कराया इस लिए अब तक हम सभी इनका साथ देते रहे,पर इन्होंने सवा लाख प्रतिनिधियो के आशा और विश्वास को तोड़ा है! इनके पास हमसबो के लिए वक्त नही है!इसलिए प्रतिनिधिमंडल ने तय किया है कि अब और अपमान बर्दास्त नही कर सकते!सत्ता धारी दलो के किसी भी कार्यक्रम मे भाग नही लेंगे।साथ ही यह भी कहा कि अब तक तो वोट देते आए थे इस लिए कि सरकार ग्राम कचहरी और इसके निर्वाचित प्रतिनिधि को जनहित,न्याय हित मे सर्व सुविधा संपन्न बनाएगी तथा राष्ट्र पिता महात्मा गांधी जी के सपनो को साकार करने मे हम प्रतिनिधियो का साथ देगी,हमारे 21 सुत्री मांगों को पूर्ण करेगी पर इन्होंने आँखे बंद कर ली है इसलिये पंच परमेश्वर अपने-अपने परिवार सखा संबंधी और समर्थको के साथ लाखो की संख्या मे सत्ता धारी दलो के दो रंगी बात करने वाले नेताओ का मतदान के माध्यम से विरोध करेंगे!संघ ने मुख्यमंत्री जी के नाम कई एक प्रश्न के साथ खुला पत्र भी भेजा है!
टिम रिपोर्ट न्युज बिहार 24×7