शराबबंदी में शिक्षकों ने शराब के नशे में कर दी जिला कल्याण पदाधिकारी कि पिटाई-मधेपुरा के चौसा प्रखंड-…

फाईल फोटो-शराबबंदी

मधेपुरा-बिहार में शराबबंदी है.मगर इसी बीच एक बार फिर से शराब पीकर मारपीट करने का मामला सामने आया है.यह मामला सरकारी कर्मचारीयों से जुड़ा है. राज्य में यह नया मामला मधेपुरा जिले का है. जिले के चौसा प्रखंड में शिक्षकों ने पहले तो शराब पी फिर बाद में जिला कल्‍याण पदाधिकारी के साथ जमकर मार-पीट की.
जिला कल्याण पदाधिकारी ने इस मामले की शिकायत स्थानीय पुलिस को कर दी है. बिहार पुलिस ने जांच के दौरान घटनास्‍थल से शराब की टूटी बाेतलें बरामद कि हैं. आरोपी शिक्षकों के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है.
बीते गुरुवार को जिले के चौसा प्रखंड में शिक्षकों ने शराब के नशे में धुत होकर बीआरसी (प्रखंड संसाधन केंद्र चौसा) में जमकर उत्पात मचाया. शिक्षकों ने जिले के कल्याण पदाधिकारी के साथ बदतमीजी की. शराबी शिक्षकों ने कल्याण पदाधिकारी पर भी बीआरसी में ही शराब पीने के लिए काफी दबाव बनाया. जब कल्याण पदाधिकारी ने शराब पीने से इंकार किया तो फिर उसके साथ मारपीट की गई.
चौसा के थाना प्रभारी ने दो अज्ञात सहित चार शिक्षकों पर एफआईआर दर्ज कर लिया और जांच शूरू कर दी है. घटना के बाद कल्याण पदाधिकारी मनोज कुमार राम ने सारे घटनाक्रम की जानकारी बीडीओ शिल्पी कुमारी को दी. बीडीओ ने मामले की जानकारी थानाध्यक्ष राजकिशोर मंडल को दी और इसके बाद बीआरसी पहुंचकर जांच-पड़ताल शुरू की गई.
बता दें कि बिहार में शराबबंदी के बावजूद शराब की बिक्री पर रोक नहीं लग पा रही है.

टीम रिपोर्ट-