लोजपा प्रत्याशी वीणा देवी की उम्मीदवारी पर फैसला आज, रद्द करने की मांग पर अड़े डा० रघुवंश

वैशाली-वैशाली लोकसभा क्षेत्र से चुनाव लड़ रही लोजपा प्रत्याशी वीणा देवी का नामांकन रद्द करने की राजद की मांग पर जिला निर्वाची पदाधिकारी आज फैसला देंगे. राजद ने जिला निर्वाची पदाधिकारी के समक्ष शिकायत दर्ज करायी है कि लोजपा प्रत्याशी वीणा देवी ने अपने शपथ पत्र में लालगंज में 2005 में दर्ज एक मुकदमे की जानकारी नहीं दि है. इस मुद्दे पर राजद ने जिला प्रशासन और आयोग पर पक्षपात का आरोप लगाते हुए देर रात तक समाहरणालय परिसर में धरना दिया.
वैशाली से राजद प्रत्याशी और पूर्व केंद्रीय मंत्री रघुवंश प्रसाद सिंह जिले के चार राजद विधायकों और कार्यकर्ताओं के साथ रात 11.30 बजे तक धरना पर बैठे रहे. वहीं लोजपा प्रत्याशी वीणा देवी का कहना है कि मेरे ऊपर दर्ज केस के बारे में मुझे कोई जानकारी नहीं है. 2005 में वह लालगंज विधानसभा का चुनाव लड़ी थी. उस समय केस दर्ज हुआ तो अब तक प्रशासन कहां था? अगर मुझ पर केस था, मुझे नोटिस मिलता या मेरी गिरफ्तारी होती तो यह मामला मेरी जानकारी में होता. अगर यह मामला होता तो वह कोर्ट से बेल ले चुकी होती. अब यह मामला सामने आया है तो चुनाव आयोग ने मुझसे जवाब मांगा. हम गुरुवार को इसका जवाब देंगे.
धरना पर बैठे डॉ रघुवंश प्रसाद सिंह ने कहा कि वीणा देवी ने जानबूझ कर अपने शपथ पत्र में लालगंज में दर्ज मुकदमे का जिक्र नहीं किया है. प्रशासन ने उन्हें बचाने के लिए समय दिया है. पहले छह बजे तक समय दिया गया. फिर इसे बढ़ाकर गुरुवार को नौ बजे तक समय दिया गया. इस मुद्दे पर उनका दल चुनाव आयोग से मिलेगा. लोकतंत्र की हत्या की जा रही है. इस मुद्दे पर राजद का धरना-आंदोलन शुरू हो गया है.
रिपोर्ट-मनीष तिवारी