मोदी दौरे के कारण केदारनाथ का दर्शन बंद क्यों ?– संदीप प्रजापति

अरविन्द तिवारी की रिपोर्ट

कोरबा — सर्व सुविधायुक्त संसाधनों से आध्यात्मिक दौरे पर केदारनाथ पहुँचे प्रधानमंत्री की अतिरिक्त सुविधा के लिये आज सुबह से ही बाबा केदारनाथ का मंदिर बंद कर दिया गया जिसके चलते आज आम श्रद्धालु भगवान के दर्शन से वंचित हो गये । यह बात सर्वथा अनुचित है ।
उक्त बातें आज न्यूज बिहार 24×7 चैनल के अरविन्द तिवारी से चर्चा करते हुये कोरबा जिला के अधिवक्ता संदीप प्रजापति ने कहा और इसके साथ ही उन्होंने इसका जवाब भी माँगा है ।
संदीप प्रजापति ने अपना पक्ष रखते हुये कहा कि हमारा भारत देश धर्म प्रधान देश है । यहाँ के लोगों के दिल में धर्म के प्रति गहरी आस्था कूट कूटकर भरी पड़ी है और यही कारण है कि देश के कोने कोने से श्रद्धालु पैसे खर्च करके , अनेकों तकलीफ झेलकर एवं अपनी जान की बाजी लगाकर भी केदारनाथ और बद्रीनाथ की दुर्गम यात्रा पर लाखों की संख्या में जाते हैं। उत्तराखंड में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के आध्यात्मिक दौरे में केदारनाथ पहुँचने से पहले आज सुबह आठ बजे से ही वहाँ आमभक्तों के लिये बाबा केदारनाथ का दर्शन बंद कर दिया गया था। मीडिया के माध्यम से यह जानकारी मिलते ही मुझे अपार पीड़ा हुई। मैंने नैट में सर्च करके भी देखा तो पता चला बसों में इतने कष्ट सहकर दूर दूर से श्रद्धालु वहाँ पहुँचे हुये हैं और कड़ी धूप में केदारनाथ के दर्शन की प्रतीक्षारत हैं । जबकि हमारे द्वारा चुना गया व्यक्ति जो सर्वसुविधायुक्त संसाधनों से आध्यात्मिक दौरे पर जा रहे हैं उनकी अतिरिक्त सुविधा के लिये आम श्रद्धालुओं को तकलीफ मिलना समझ से परे है ।