मुख्यमंत्री के सिफारिश के बाद कैबिनेट मंत्री ओमप्रकाश राजभर बर्खास्त-लखनऊ-

अरविन्द तिवारी की रिपोर्ट

लखनऊ– उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने राज्यपाल राज्यपाल रामनाईक से पिछडा वर्ग कल्याण और दिव्यांग जनकल्याण मंत्री ओमप्रकाश राजभर को मंत्री पद से बर्खास्त करने की सिफारिश की थी जिसे राज्यपाल ने मंजूरी दे दी हैं । राजभर को बर्खास्त करने के बाद उनके बेटे अरविंद राजभर सहित सात कैबिनेट मंत्री ने भी अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। इसी के साथ सीएम योगी के इस फैसले पर राजभर ने अपनी प्रतिक्रिया देते हुये राजभर ने कहा कि उन्होंने मंत्री रहते लगातार पिछड़ों के अधिकार की बात उठायी। यही बात मुख्यमंत्री को नागवार गुजरी. उन्होंने कहा, “मैं पिछड़ा कल्याण वर्ग का मंत्री था. लिहाजा मेरा कर्तव्य था कि मैं उनकी बात उठाता. मैंने पिछड़ों को छात्रवृत्ति की बात उठाई, लेकिन मुख्यमंत्री के पास समय नहीं था.” ।
गौरतलब है कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने राज्यपाल को पिछड़ा वर्ग कल्याण और दिव्यांग जन कल्याण मंत्री ओमप्रकाश राजभर को मंत्रिमंडल व अन्य सदस्य, जो विभिन्न निगमों और परिषदों में अध्यक्ष व सदस्य हैं, सभी को तत्काल प्रभाव से हटाया है ।