भारी हंगामें के बीच लोकसभा में तीन तलाक बिल पेश-

अरविन्द तिवारी की रिपोर्ट

नई दिल्ली — लोकसभा में भारी हँगामें के बीच आज कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने तीन तलाक बिल पेश कर दिया । तीन तलाक बिल पेश होते ही सदन में हंगामा शुरू हो गया । सबसे पहले तीन तलाक बिल का विरोध करते हुये कांग्रेस साँसद शशि थरूर ने कहा कि इस बिल से मुस्लिम महिलाओं की दिक्कते और बढ़ जायेंगी । शशि थरूर के बाद ओवैसी भी उनके समर्थन में खड़े हुये और तीन तलाक बिल का विरोध किया । ओवैसी ने तीन तलाक बिल का विरोध करते हुये कहा कि यह संविधान के खिलाफ है । इस बिल से सिर्फ मुस्लिम समाज के पुरुषों को सजा मिलेगी । ओवैसी ने सदन में तर्क दिया कि हमारे देश में अन्य धर्मों मे घरेलू हिंसा में एक साल सजा का प्रावधान है जबकि तीन तलाक बिल में तीन साल सजा का प्रावधान है । इस बिल के पास होने के बाद जो पति जेल जायेंगे उनकी पत्नियों का खर्चा क्या सरकार देने के लिये तैयार है ?