ब्रिटिश अभिनेता डेविड वार्नर का निधन

अरविन्द तिवारी की रिपोर्ट
➖➖➖➖➖➖➖➖
लंदन – कैंसर से पीड़ित दिग्गज ब्रिटिश अभिनेता डेविड वार्नर (80, वर्षीय) का निधन लंदन के डेनविले हॉल में हो गया। वे अपने आखिरी वक्त में लंदन के डेनविल हिल में रह रहे थे , जो कि एंटरटेनर्स के लिये एक रिटायरमेंट होम है। उन्होंने फिल्मों में शेक्सपियर की कहानियों पर आधारित फिल्मों से लेकर साइंस फिक्शन कल्ट क्लासिक्स में काम किया था। गौरतलब है कि जुलाई 1941 में इंग्लैंड के मैनचेस्टर में जन्मे वार्नर ने ब्रिटिश ड्रामा स्कूल रॉयल अकादमी ऑफ ड्रामेटिक आर्ट पढ़ाई की थी। पहली बार 1966 की ब्रिटिश फिल्म मॉर्गन – ए सूटेबल केस फॉर ट्रीटमेंट में काम किया था। फिल्म के उनके द्वारा निभाये किरादार की खूब तारीफ भी हुई थी। जिसके लिये उन्हें ब्रिटिश अकादमी फिल्म पुरस्कार के लिये नामांकित किया गया था। डेविड को फिल्मों में अक्सर विलेन वाले किरदार मिलते थे। उन्होंने द बैलाड ऑफ केबल हॉग , स्ट्रॉ डॉग्स , क्रॉस ऑफ आयरन , द ओमेन , होलोकॉस्ट , द थर्टी नाइन स्टेप्स , टाइम आफ्टर टाइम , टाइम बैंडिट्स , ट्रॉन , ए क्रिसमस कैरल , पोर्ट्रेट इन एविल , टाइटैनिक , मैरी पोपिन्स रिटर्न्स जैसी फिल्मों में काम किया था। इसके अलावा वे वर्ष 2018 में
उन्होंने साल 1971 में साइकोलॉजिकल थ्रिलर ‘स्ट्रॉ डॉग्स’, 1976 की हॉरर क्लासिक ‘द ओमेन’, 1979 की टाइम-ट्रैवल एडवेंचर ‘टाइम आफ्टर टाइम – ही वॉज जैक द रिपर’ और 1997 की ब्लॉकबस्टर ‘टाइटैनिक’ में अहम भूमिकायें निभायी थीं। डेविड वार्नर ने लंदन के रॉयल एकेडमी ऑफ ड्रामेटिक आर्ट में कोचिंग ली थी। डेविड उन दिनों रॉयल शेक्सपियर कंपनी के एक युवा स्टार बन गये थे। उन्होंने शेक्सपियर के फिल्मों में ‘किंग हेनरी VI’ और ‘किंग रिचर्ड II’ सहित कई भूमिकायें निभाई थी। पीटर हॉल द्वारा निर्देशित कंपनी के लिये 1965 में ‘हेमलेट’ में उन्होंने जो किरदार निभाया , उसे उस पीढ़ी का बेहतरीन परफॉर्मेंस माना जाता था। डेविड वार्नर ने ‘हेमलेट’ में एक प्रताड़ित छात्र का किरदार निभाया था। वे 1960 के दशक युवाओं के प्रतीक लग रहे थे और एक अशांत युग की कट्टरपंथी भावना को पकड़े हुये थे। डेविड ने हॉल की 1968 में आई फिल्म ‘ए मिडसमर नाइट्स ड्रीम’ में हेलेन मिरेन और डायना रिग के साथ काम किया।इसके अलावा वे वर्ष 2018 में मैरी पॉपींस की सीक्वल में भी अपनी अदाकारी की जलवा दिखाते नजर आये थे। उन्होंने फिल्मों के अलावा कई टीवी सीरियलों में भी काम किया था। उन्होंने स्टार ट्रेक , डॉक्टर हू , पेनी ड्रेडफुल , रिपर स्ट्रीट जैसे टीवी सीरियलों में भी अपनी अदाकारी दिखाई थी। वे 70 और 80 के दशक के पापुलर कैरेक्टर आर्टिस्ट में से एक रहे। बाद में डेविड वार्नर ने 1981 की टीवी मिनिसीरीज ‘मसाडा’ में रोमन राजनेता पोम्पोनियस फाल्को के रूप में अपनी भूमिका के लिए एमी अवॉर्ड जीता. उनका ब्रिटेन और अमेरिकी फिल्म और टीवी इंडस्ट्री में एक बेहतरीन केरियर रहा है। उनकी पर्सनल लाइफ की बात करें तो उन्होंने दो शादियां की थी। वर्तमान में वे अपनी पार्टनर लिसा बोवेरमेन के साथ थे। उनके दो बच्चे  मेलिस्सा वॉर्नर और ल्यूक वॉर्नर है।

Leave a Reply