बिहार को अपराधमुक्त बनाना हमारा पहला लक्ष्य-डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय-रोसड़ा-

फाईल फोटो

युवा साहित्यकार की पुस्तक मांडवी का विमोचन करने रोसड़ा पहुंचे डीजीपी

रोसड़ा-रोसड़ा मे रामेश्वर लक्ष्मी महतो शिक्षक ट्रेनिंग कॉलेज में आयोजित एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए उन्होंने साहित्यकारों से अपील की कि समाज को बनाने में साहित्यकारों का बहुत बड़ा योगदान होता है ।श्री पाण्डेय ने कहा कि लोगों के चेतना के स्तर में काफी गिरावट आई है ।जिसके चलते आदमी व्यक्तिगत लाभ के लोभ में पड़ जाता हूं।इसके परिणामस्वरूप गलत कार्यो में लिप्त हो जाता है।उन्होंने कहा कि
साहित्यकार अपनी कलम से लोगों की चेतना को अव्वल कर सकते हैं। जिससे हमारा समाज स्वच्छ व सुंदर बन सकता है ।
इसके पूर्व उन्होंने स्थानीय युवा साहित्यकार सौरभ वाचस्पति की पुस्तक मांडवी का विमोचन किया।

आम जनता का सहयोग रहे तो चूहे के बिल से निकाल लेंगे अपराधियों को-डीजीपी बिहार

———————————————————————

बिहार के पुलिसिया व्यवस्था पर श्री पाण्डेय ने कहा कि हमारा पहला लक्ष्य बिहार को अपराध मुक्त बनाना है । इसके लिए सबो के सहयोग की जरूरत है। हम वादा करते हैं कि आपकी आकांक्षाओं पर सौ फ़ीसदी खड़े उतरेगें। उन्होंने कहा कि गलत करने वाले किसी भी सूरत में बख्शे नहीं जाएंगे।अपराधी चूहे के बिल में भी अगर छिपे होंगे तो भी उन्हें निकाल लिया जाएगा।
कार्यक्रम के पश्चात डीजीपी ने अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी कार्यालय में समीक्षात्मक बैठक की।बैठक के बाद डीजीपी ने पत्रकारों को बताया कि यहां की पुलिसिंग व्यवस्था संतोषजनक है।एसपी हरप्रीत कौर के बारे में उन्होंने कहा कि एसपी एक अच्छी पुलिस पदाधिकारी है।इनके कार्य प्रणाली से हम संतुष्ट है।
रिपोर्ट-मनीष तिवारी