प्रशासनिक अधिकारी ने किया शिवार्चन, रुद्राभिषेक

जाँजगीर चाँपा-भगवान शंकर देवों के देव महादेव और कालों के भी काल महाकाल हैं।आज सोमवार और महाशिवरात्रि दोनों हैं,महाशिवरात्रि का संयोग आज चार साल बाद बना है वहीं अगले बारह वर्षों बाद ही सोमवार के दिन महाशिवरात्रि का संयोग बनेगा जब आज की ही तरह सोमवार को महाशिवरात्रि मनाया जायेगा।सोमवार के दिन महाशिवरात्रि होना शुभ फलदायी होता है,यह एक सुखद संयोग है।इसी दिन सृष्टि के आरंभ में भगवान शंकर जी रुद्र के रूप में प्रकट हुये थे। बाबा भोलेनाथ के भक्तों के लिये महाशिवरात्रि व्रत का विशेष महत्व होता है इसी कड़ी में आज शिवभक्त एक ओर जहाँ गंगा इत्यादि नदियों में स्नान कर जलाभिषेक किये वहीं दूसरी ओर शिवालयों में भी श्रद्धा,भावना के साथ पूजा पाठ संपन्न हुआ.आज देशभर में महाशिवरात्रि का पर्व बड़े हर्षोल्लास के साथ मनाया गया।
इसी कड़ी में जांजगीर-चांपा जिला के नवागढ़ विकासखंड अंतर्गत आने वाले माँ शवरीन दाई की पावन धरा अमोरा( महन्त) के विशाल सागर तालाब के तट पर अपने पूर्वजों की स्मृति में निर्मित कराये गये शिव मंदिर में भी शिवार्चन और रूद्राभिषेक का कार्यक्रम संपन्न हुआ जिसके यजमान पूर्व आबकारी अधिकारी दिवाकर तिवारी,उनकी धर्मपत्नी जनपद पंचायत महासमुँद सीईओ श्रीमति आभा तिवारी एवं उनके पुत्र नवनियुक्त पुलिस उप अधीक्षक सिद्धांत तिवारी थे।आचार्य नारद प्रसाद पांडेय के द्वारा रूद्राभिषेक , शिवपूजन एवं शिवविवाह संपन्न कराया गया।गाँव के लोग इन सभी अधिकारियों को अपने नजदीक बैठे देख काफी खुश नजर आये।मंदिर को विशेष साफ सफाई और रंग रोगन कर आकर्षक विद्युत सज्जा से सजाया गया था।पूजन के पश्चात सभी ग्रामवासियों को भी भोजन कराया गया।कार्यक्रम को सफल बनाने में गो सेवा संगठन जाँजगीर चाँपा के जिला प्रभारी शिशिर गोलू तिवारी का विशेष योगदान रहा।इस कार्यक्रम में छत्तीसगढ़ी ब्राह्मण समाज केन्द्रीय समिति के अध्यक्ष विनय तिवारी और माध्यमिक शिक्षा मंडल छत्तीसगढ़ के सदस्य श्री बिहारी लाल शर्मा विशेष रूप से उपस्थित थे।

रिपोर्ट-अरविन्द तिवारी