नहीं थम रहा इंसेफेलाइटीस का कहर,अब तक दर्जनों बच्चो की हो चुकी है मौत-मुजफ्फरपुर-

मनीष तिवारी की रिपोर्ट

—————————

मुजफ्फरपुर-मुजफ्फरपुर में एक्यूट इंसेफेलाइटिस सिंड्रोम (एईएस) का कहर थमने का नाम नहीं ले रहाहै.इंसेफेलाइटीस के कारण अब तक 14 बच्चों की मौत हो चुकी है।मुजफ्फरपुर एसकेएमसीएच के अधीक्षक सुनील शाही के अनुसार “इंसेफेलाइटीस के कुल 38 मरीज़ों को भर्ती किया गया था, जिनमें से 14 की मौत हो गई और बाकी बच्चों को अभी तेज बुखार है।”
वहीं पिछले एक सप्ताह के अंदर संदिग्ध एक्यूट इंसेफलाइटिस सिंड्रोम (एईएस) और जापानी इंसेफलाइटिस (जेई) नामक बीमारी से 12 बच्चों की मौत हो चुकी है। मुजफ्फरपुर के श्रीकृष्ण मेमोरियल कॉलेज अस्पताल (एसकेएमसीएच) में शुक्रवार को संदिग्ध एईएस से पीड़ित 21 बच्चों को भर्ती किया गया था,जबकि केजरीवाल अस्पताल में 14 मरीज पहुंचे थे।
मुजफ्फरपुर के सिविल सर्जन एस पी सिंह ने बताया कि बच्चों की मौत के कारणों का पता लगाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि अधिकांश बच्चों में हाइपोग्लाइसीमिया यानी अचानक शुगर की कमी की पुष्टि हो रही है। उन्होंने भी माना कई बच्चों को तेज बुखार में लाया जा रहा है। उन्होंने इसे चमकी और तेज बुखार बताया।
नेपाल के तराई क्षेत्र में आने वाले उत्तर बिहार के मुजफ्फरपुर,पूर्वी चंपारण, पश्चिम चंपारण,शिवहर, सीतामढ़ी व वैशाली में बीमारी का प्रभाव दिखता है. इस बार एसकेएमसीएच में जो मरीज आ रहे,वे मुजफ्फरपुर और आसपास के हैं.आपको बता दे की इस बीमारी का प्रकोप पिछले कुछ सालों से अपना कहर बरपा रहा है.मगर अब तक इसका कुछ समुचित इलाज नही मिल सका है.

रिपोर्ट-मनीष तिवारी