छग में तेरह साल पायलट रहे डी एस मिश्रा ने आज ली मंत्री की शपथ-भुवनेश्वर-

अरविन्द तिवारी की रिपोर्ट

भुवनेश्वर — छत्तीसगढ़ में डेढ़ दशक तक पायलट की नौकरी करने वाले कैप्टन डीएस मिश्रा अब मंत्री बन गये हैं। बीजेडी से लगातार दूसरी बार चुनाव जीतने वाले विधायक कैप्टन दिव्यशंकर मिश्र ने राज्य मंत्री की शपथ ली।छत्तीसगढ़ के सरकारी हेलिकॉप्टर के चीफ पायलट अफसर रह चुके दिव्य शंकर मिश्रा ओडिशा के कालाहांडी क्षेत्र के जूनागढ़ विधानसभा सीट से चुनाव जीते हैं। उन्होंने बीजू जनता दल के टिकट पर यह चुनाव लड़ा था।
हालांकि विधायक बनने के बाद भी कई दफा उन्हें हेलीकाप्टर उड़ाते देखा गया था। तब उन्होंने कहा था कि ये उनका शौक है, लिहाजा वो मुफ्त में प्लेन व हेलीकाप्टर उड़ायेंगे। जूनागढ़ हमेशा से भाजपा का गढ़ रहा है, लेकिन पिछले दो चुनाव में डीएस मिश्रा ने बीजेपी के इस गढ़ में सेंध लगा दी। हालांकि ये कांग्रेस की भी ये फेवरेट सीट रही, बावजूद बीजेडी की तरफ से डीएस के दो लगातार जीत ने उनके मंत्री बनने की राह को आसान बना दिया।
2014 के चुनाव में उन्होंने भाजपा के प्रत्याशी अनिल सिंहदेव को 11307 मतों से हराया था..जबकि इस चुनाव में उन्होंने मनोज कुमार मेहर हराया है। पायलट डीएस मिश्रा को नवीन पटनायक का बेहद करीबी माना जाता है, उनके कहने पर ही उन्होंने जूनागढ़ से चुुनाव लड़ा और जीत हासिल की।
पायलट मिश्रा ने छत्तीसगढ़ में 13 वर्षों तक अपनी सेवाएं दीं। वे राज्य गठन के बाद से यहीं रहे और 2013 – 14 में अपने पद से इस्तीफा देकर राजनीति मे अपनी किस्मत आजमाने उड़ीसा चले गये थे ।