छग डीकेएस अस्पताल घोटाला मामले में तत्कालीन एजीएम गिरफ्तार-रायपुर-..

अरविन्द तिवारी की रिपोर्ट

रायपुर — छत्तीसगढ़ के बहुचर्चित डीकेएस अस्पताल के करोड़ों के घोटाला मामले के खिलाफ शिकंजा कसते हुये पुलिस ने इस मामले में पहली गिरफ्तारी कर ली है । इस गिरफ्तारी से घोटाला मामले में नया मोड़ आ गया है जिससे आशंका व्यक्त की जा रही है कि इस महाघोटाले में और भी कई दिग्गज लोग शामिल होंगे । मामले की जांच कर रहे अधिकारियों ने कहा पंजाब नेशनल बैंक के डिप्टी जनरल मैजेनजर सुनील अग्रवाल को पीएनबी के दिल्ली सिविल लाईन स्थित बैंक परिसर से गिरफ्तार कर लिया गया है । अग्रवाल के खिलाफ धोखाघड़ी और षडयंत्र की धारा 420 और 120 (बी) के तहत मामला दर्ज है ।

इस संबंध में पुलिस सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार डॉ. पुनीत गुप्ता द्वारा दाऊ कल्याण सिंह अस्पताल के नाम पर दस्तावेजों को कुट रचित कर 64 करोड़ रुपये ऋण मांगने की शिकायत मिली थी । आरोप है कि इस मामले में बैंक अधिकारी अग्रवाल ने दस्तावेजों का बिना वैरिफिकेशन किये और बिना चार्टर्ड आकाऊंटेंट के सहमति के डॉ. पुनित गुप्ता को 64 करोड़ रुपये का ऋण मंजूर कर दिया। सुनील अग्रवाल के अनुशंसा के आधार पर ही पंजाब नेशनल बैंक ने लोन की रकम स्वीकृत की थी जिसके एवज में बीकेएस अस्पताल अभी पंजाब नेशनल बैंक की बंधक प्रॉपर्टी है जल्द ही सुनील अग्रवाल को पूछताछ के लिये ट्रांजिट रिमांड पर रायपुर लाया जायेगा जिसके बाद ही  मामले की सच्चाई सामने आयेगी । इसी मामले में आज डॉ पुनीत गुप्ता से रायपुर पुलिस ने दूसरी बार पूछताछ की थी ।