चिकित्सकों की देशव्यापी हड़ताल जारी,हाजीपुर में बंद का नहीं दिखा असर,चिकित्सक अपने आवास से कर रहे इलाज-हाजीपुर-

फाईल फोटो

हाजीपुर-पश्चिम बंगाल में डॉक्टरों के साथ बर्बरता पूर्ण मारपीट,पुलिस के उदासीन रवैया और राज्य के मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के व्यवहार से आहत वहां के डॉक्टर हड़ताल पर है.डॉक्टरों के समर्थन में बिहार के डॉक्टर भी उतर आए हैं.राज्य की चिकित्सा व्यवस्था वैसे ही दयनीय है.सरकारी अस्पतालों के जूनियर डॉक्टरों की हड़ताल से ओपीडी सेवा ठप है.बिहार के पीएमसीएच, एनएमसीएच,गया एनएमसीएच,मुजफ्फरपुर एसकेएमसीएच और दरभंगा डीएमसीएच में हड़ताल का असर दिख रहा है.भारतीय चिकित्सा संघ ने शुक्रवार को अखिल भारतीय विरोध दिवस घोषित कर बंद रखा है.इस बंद में कुछ निजी चिकित्सक भी शामिल है.हालांकि निजी चिकित्सालयों में योगदान देने वाले सरकारी डॉक्टरों की हड़ताल में भी चांदी है.राज्य के एक शहर हाजीपुर जिसे वैशाली जिला का मेडिकल हब भी कहा जा सकता है वहां स्थिति बिल्कुल उलट है.यहां निजी क्लीनिकों के कर्मचारी और सक्रिय दलालों के बदौलत इस बंद का कोई असर नहीं दिख रहा है.चिकित्सक क्लिनिक छोड़ अपने आवास पर बैठे हैं और मरीजों को सीधे आवास पहुंचा दिया जा रहा है.हालांकि जरूरतमंद मरीजों के लिए यह राहत की बात है मगर इससे यह स्पष्ट होता है की चिकित्सकों के लिए पैसा ही भगवान है,उन्हें सरकारी अस्पतालों में तड़पते मरीज या अपने साथी डॉक्टर के साथ हुई बर्बरता पूर्ण मारपीट से कोई सरोकार नहीं है.
टीम रिपोर्ट-