चमकी बुखार मामले में नीतीश कुमार समेत केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री के खिलाफ जनहित याचिका-पटना-

अरविन्द तिवारी की रिपोर्ट

पटना – बिहार के मुजफ्फरपुर सहित कई जिलों में एक्यूट इंसेफलाइटिस सिंड्रोम (चमकी बुखार) से अब तक 140 से ज्यादा बच्चों की मौत हो चुकी है. इस बीमारी को रोकने में बिहार सरकार नाकाम दिख रही है। वहीं बच्चों की मौत के मामले में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और स्वास्थ्य मंत्रियों के खिलाफ जनहित याचिका दाखिल की गयी है।

इस जनहित याचिका में नीतीश कुमार के साथ-साथ केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन, केंद्रीय स्वास्थ्य राज्यमंत्री अश्विनी चौबे और राज्य सरकार में स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय को भी नामजद किया गया है। सरकार पर बच्चों की मौत के प्रति उदासीनता का आरोप लगाया गया है। गौरतलब है कि मुजफ्फरपुर के श्रीकृष्ण मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल के दौरे पर पहुँचे नीतीश कुमार को यहां भारी विरोध का सामना करना पड़ा। अस्पताल के बाहर आक्रोशित लोगों ने उनके खिलाफ प्रदर्शन किया और मुर्दाबाद के नारे भी लगाये थे।