गौ सेवा ही हमारा मुख्य लक्ष्य है — ऋचा पांडेय

बिलासपुर– आज हर शहर में निराश्रित गोवंशों का सड़कों और चौराहों से लेकर गली मोहल्लों तक जमावड़ा लगा रहता है, जिसके चलते कभी कभी तो अज्ञात वाहनों की ठोकर से गोवंश दुर्घटनाग्रस्त या क्षतिग्रस्त हो जाते हैं तो कभी कभी ये स्वयं लोगों पर हमला कर उन्हें चोट पहुँचा देते हैं। गौमाता की पीड़ा और आम जनताओं की परेशानी को देखते हुये गौ मातृ छाया सोसायटी ने गौ सेवा के इस पुण्य कार्य को अपने हाथों लिया है। निराश्रित गोवंश की समुचित रखरखाव के साथ साथ बीमार ,अपाहिज , दुर्घटनाग्रस्त गोवंशों की सेवा का बीड़ा भी हमारी सोसायटी ने उठाया है ।
उक्त बातें गौ मातृ छाया सोसायटी के अध्यक्षा कुमारी ऋचा पांडेय ने न्यूज बिहार 24 ×7 चैनल के अरविन्द तिवारी से चर्चा के दौरान कही । सोसायटी के बारे में विस्तृत जानकारी देते हुये दो बहनों एवं एक भाई में सबसे बड़ी बाईस वर्षीया ऋचा पांडेय ने बताया कि मेरे पिताजी राकेश पांडेय गौ सेवा करते हैं तो बचपन से ही मुझे गौ सेवा का प्रेरणा भी मिला। चूकि मेरे दादा जी का नौकरी कोरबा में था इसलिये मैंनै बी०ए० , बी०जे०एम०सी० की परीक्षा कोरबा से उत्तीर्ण की। आज के समय में गौमाता की दयनीय स्थिति को देखते हुये मेरे मन में गौ सेवा का भाव जागृत हुआ और अपनी भावनाओं को अमन वर्मा के सामने रखी,वे भी इस गौ सेवा कार्य से काफी प्रभावित हुये! फिर हमने जुलाई 2018 में गौ मातृ छाया सोसायटी की स्थापना की और फरवरी 2019 में इसका पंजीकरण कराया । सोसायटी द्वारा सर्वसम्मति से ऋचा पांडेय को अध्यक्ष ,अमन वर्मा को सचिव और मयंक मिश्रा को उपाध्यक्ष नियुक्त किया गया। इस सोसायटी में लगभग एक सौ लोग जुड़े हुये हैं जो चौबीसों घंटे नि:स्वार्थ भावना से गौ सेवा में लगे रहते हैं। सोसायटी का कार्यक्षेत्र सम्पूर्ण छत्तीसगढ़ है । हमारी सोसायटी का मुख्य उद्देश्य छत्तीसगढ़ में निराश्रित घूम रहे गोवंश को संरक्षण प्रदान कर उनके चारा , ईलाज एवं आवास की समुचित व्यवस्था करना , सड़कों पर हो रहे गोवंश की दुर्घटना को रोकना एवं दुर्घटनाग्रस्त गोवंश का उपचार करवाकर उनकी देखभाल करना है । सोसायटी द्वारा गौमाता की संरक्षण के लिये नगर निगम आयुक्त एवं बिलासपुर महापौर से भी चर्चा किया गया जिसके फलस्वरूप हमारी सोसायटी को 25 मार्च 2019 को नगर निगम बिलासपुर द्वारा संचालित मोपका कांजी हाऊस की संरक्षता प्राप्त हुआ। हमारी सोसायटी द्वारा गौ सेवा हेतु एक हेल्पलाईन नंबर 9201311000 जारी किया गया है जिस नंबर में फोन करके आमजनता भी बिलासपुर शहर में सड़कों पर घूम रही निराश्रित , दुर्घटनाग्रस्त या बीमार गोवंश की जानकारी दे सकते हैं। सोसायटी के सदस्य तत्काल गो एम्बुलेंस एवं काऊ कैचर टीम के साथ पहुँचकर गोवंश को संरक्षण देंगे । गोवंश के लिये अभी आवास , चारा , दवा सबकी व्यवस्था हमारी सोसायटी द्वारा की जा रही है। अभी तो हमारी सोसायटी की सेवा बिलासपुर में चल रही है लेकिन अतिशीघ्र सभी शहरों में शुरू हो जायेगी ।
रिपोर्ट-अरविन्द तिवारी