कैदी की संदिग्ध परिस्थितियों में हुई मौत-

अरविन्द तिवारी की रिपोर्ट

दुर्ग — जिले के सेंट्रल जेल में एक कैदी की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई है। बताया जा रहा है कि कैदी आजीवन कारावास की सजा काट रहा था। सर पर चोट लगने से उसकी मौत हो गई है। मामले में जेल प्रशासन जांच में जुट गई है।
इस संबंध में मिली जानकारी के अनुसार मृतक कैदी राजेंद्र देवांगन (45) पत्नी की हत्या करने के आरोप में दुर्ग सेंट्रल जेल में आजीवन कारावास की सजा काट रहा था। जेल प्रशासन का कहना है कि कैदी की मौत सीढ़ीयों से गिरकर हुई है। सिर पर गंभीर चोट लगने के कारण उसकी जान चली गई। वहीं दूसरी ओर कैदी के परिजनों ने प्रशासन के इस बात को मानने से साफ इनकार कर दिया है। परिजनों का कहना है कि कैदी की मौत संघर्ष के कारण हुई है क्योंकि खून के धब्बे सीढ़ी से दूर दिखाई दे रहे हैं। परिजनों ने मामले में जांच की मांग की है। फिलहाल पुलिस ने जेल पहुंचकर परिजनों के सामने पंचनामा किया। इसके बाद शव को पोस्टमार्टम के लिए मर्च्यूरी लाया गया है।