केंद्र सरकार ने छग के पाँच मेडिकल कॉलेजो में बढ़ायी सीटें,उमा द्विवेदी ने किया फैसले का स्वागत-

अरविन्द तिवारी की रिपोर्ट

रायपुर — केंद्र सरकार ने मेडिकल की पढ़ाई करने की सोचने वाले छात्र छात्राओं को बहुत बड़ा तोहफा दिया है। केन्द्र सरकार ने छत्तीसगढ़ के पाँच मेडिकल कॉलेजों की सीटों में बढ़ोतरी करने का फैसला लिया है। मेडिकल काऊँसिल ऑफ इंडिया के बोर्ड ऑफ गवर्नर्स ने पूरे देश में 10% ईडब्ल्यूएस कोटा 2019-20 के सत्र में बढ़ाने की घोषणा की है। इसमें छत्तीसगढ़ के पांच मेडिकल कॉलेज में सिम्स बिलासपुर में 30, गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज राजनांदगांव में 25, बलीराम कश्यप स्मृति एनएमडीसी शासकीय मेडिकल कॉलेज जगदलपुर में 25, लखीराम अग्रवाल स्मृति शासकीय मेडिकल कॉलेज रायगढ़ में 10 और जवाहरलाल नेहरू मेमोरियल मेडिकल कॉलेज रायपुर में 30 सीटें बढ़ाने की घोषणा की है। वहीं दूसरी ओर छत्तीसगढ़ में MBBS की 650 और BDS के 600 सीटों के लिये भी कल से ऑनलाइन काऊँसलिंग शुरू हो चुकी है। नेट क्वालिफाइड छात्र 27 जून रात 11:59 बजे तक ऑनलाईन पंजीयन करा सकेंगे। मेरिट सूची 28 जून को जारी की जायेगी। इसके बाद कॉलेज में सीटों का आबंटन किया जायेगा। चिकित्सा शिक्षा विभाग ने छात्रों को चेतावनी देते हुये कहा है कि दलालों के झांसे में न आयें । डीएमई डॉ० एसएल आदिले ने बताया कि जिन छात्रों के दस्तावेज सही पाया जायेगा उन्हें 29 तारीख से सीटें एलॉट किया जायेगा।

उमा द्विवेदी ने किया फैसले का स्वागत

आयुष कालेज आफ नर्सिंग बिलासपुर के प्रोफेसर उमा द्विवेदी ने केन्द्र सरकार द्वारा छत्तीसगढ़ के पाँच मेडिकल कालेजों में 120 सीटें बढ़ाये जाने वाले इस फैसले का स्वागत करते हुये कहा है कि रोगी और बीमारी दिन प्रतिदिन बढ़ रहे हैं तो उनके ईलाज के लिये डाक्टरों की संख्या भी बढ़नी ही चाहिये । चिकित्सा क्षेत्र आगे बढ़ेगा तभी स्वस्थ समाज की परिकल्पना की जा सकती है ।