काफी समय से लंबित शिक्षक नियुक्ति की प्रक्रिया होगी शुरू,27 अगस्त से दे सकेंगें आवेदन,STET 2012 पास कंडिडेट होगें पात्र-

पटना-सुबे मे काफी समय से लंबित पड़े शिक्षक नियुक्ति की प्रक्रिया शुरू होने की घोषणा की गई है. शिक्षा विभाग ने सोमवार को इसके लिए शेड्यूल जारी किया है. इसके अनुसार 29 जुलाई से छठे चरण के तहत हाई स्कूल और प्लस टू शिक्षकों के 35 से 40 हजार रिक्त पदों पर नियुक्ति होगी.
गौरतलब है कि इसमें वे सभी उम्मिदवार पात्र होंगे जिन्होंने राज्य शिक्षक पात्रता परीक्षा (STET) 2012  पास की थी और जिनके उत्तीर्णता प्रमाण पत्र की अवधि जून 2019 में समाप्त हो गयी थी. बता दें कि बिहार सरकार ने इसे जून 2021 तक बढ़ा दिया था. इसके लिए आवेदन 27 अगस्त से मिलेंगे और यह 26 सितंबर तक जमा किया जा सकेंगे. इसके बाद विभिन्न प्रक्रियाओं से गुजरते हुए नियोजन इकाइयों द्वारा 29 नवम्बर को नियुक्ति पत्र बांटे जाएंगे.

6 अगस्‍त को ट्रेनिंग

शिक्षा विभाग के आदेशानुसार 29 जुलाई तक जिलों मे नियोजनवार रिक्त पदों की गणना करेंगे. 3 अगस्त को राज्यस्तरीय नियोजन प्रशिक्षण होगा. जिलास्तर पर कर्मियों के लिए यह ट्रेनिंग 6 अगस्त को होगा. 9 अगस्त को जिलावार रिक्त पदों के रोस्टर पंजी तैयार होंगे.16 अगस्त को आरडीडीई के स्तर पर रोस्टर क्लियरेंस होगा.21 अगस्त को जिला कोटिवार व विषयवार रिक्ति की सूचना नियोजन इकाइयों को भेजेंगे. 26 अगस्त को नियोजन इकाईयां विषयवार रिक्ति की सूचना प्रकाशित करेंगे.
नियुक्ति में महिलाओं को 35 प्रतिशत का आरक्षण मिलेगा. शेष आरक्षण सामान्य प्रशासन विभाग द्वारा निर्गत अधिसूचनाओं के अनुरूप है

योग्यता

हाईस्कूल शिक्षक – स्नातक, बीएड,एससीईटी-1 उत्तीर्ण
प्लसटू – स्नातकोत्तर,बीएड, एसटीईटी-2 उत्तीर्ण
संगीत,नृत्य,ललितकला, कम्प्यूटर,शारीरिक शिक्षक के लिए बीएड होना जरूरी नहीं है. संबंधित विषयों में प्रशिक्षण की डिग्री वांछित है.
आयु सीमा – न्यूनतम 21 वर्ष, अधिकतम आयु सीमा सामान्य प्रशासन द्वारा निर्धारित है.
दिव्यांग और बीएड प्रशिक्षितो को 10 वर्ष की छूट.संगीत शिक्षक के लिए जिनकी उम्र सीमा के अधीन 2012 एसटीईटी के समय थी,उनके लिए छठे चरण में भी अधिकतम उम्र सीमा की यह  छूट लागू की गयी है.

गौरतलब बातें

31 दिसम्बर 2018 तक उपलब्ध विषयवार शिक्षकों के रिक्त पदों पर नियोजन होंगे.
1000 में से चौथे पांचवें चरण में रिक्त रह गये कम्प्यूटर शिक्षकों के पदों पर नियुक्ति होगी.
प्लस टू के वाणिज्य स्ट्रीम में केवल एमबीए डिग्रीधारी नियुक्त नहीं होंगे. इसके लिए एम कॉम एवं बीएड होना अनिवार्य है.
इंजीनियरिंग से स्नातक जिसमें विज्ञान और गणित की विशेषज्ञता हो और बीएड एवं एसटीईटी उत्तीर्ण हों,गणित विषय में माध्यमिक शिक्षक के पद पर नियोजित हो सकते हैं.