एक तरफ चमकी बुखार से हो रही मासुमों की मौत तो दुसरी तरफ एसकेएमसीएच में मिले नर कंकाल,मानसून के साथ कन्हैया पहुंचे मुजफ्फरपुर-

पटना-बिहार में इंसेफेलाइटीस यानी कथित चमकी बुखार का कहर थम नहीं रहा है.आज जेएनयू के पूर्व अध्यक्ष और सीपीआई के नेता डा० कन्हैया कुमार मुजफ्फरपुर के श्री कृष्ण मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल पहुंचे.

समर्थकों की भारी भीड़ के कारण उन्हें पहले अंदर नहीं जाने दिया गया.काफी जद्दोजहद के बाद उन्हें पीड़ित मासूमों और उनके परिजनों का हाल जानने के लिए दो-तीन समर्थकों के साथ अंदर जाने की इजाजत मिली.हालांकि मीडिया से उन्होंने कुछ कहा नहीं.कन्हैया ने कहा कि यह प्रार्थना का वक्त है और इस पर राजनीति नहीं होनी चाहिए.इसी के साथ उत्तर बिहार में मानसून ने भी दस्तक दे दी है.सुबह से ही मुजफ्फरपुर सहित अन्य अलग-अलग जगहों पर बारिश हो रही है और मौसम खुशनुमा है.विशेषज्ञ बताते हैं कि गर्मी कम होने और बारिश के बाद चमकी का प्रकोप थम जाएगा.

प्रतीकात्मक तस्वीर

एसकेएमसीएच में नया मामला, मिला नर कंकाल

एसकेएमसीएच के पीछे झाड़ियों में मिला नर कंकाल

इसी बिच एसकेएमसीएच मे एक नया मामला सामने आ रहा है. यहां नर कंकाल मिलने से हड़कंप मचा है. मीडिया में खबर चलने के बाद प्रशासन ने जांच के आदेश दे दिए हैं.इस बाबत अस्पताल के अधीक्षक डा० एसके शाही ने मामले की जांच के लिए एक टीम गठित की है. प्राचार्य और अधीक्षक की टीम संयुक्त रूप से इस मामले की जांच करेगी.उन्होंने कहा कि यह बिल्कुल अमानवीय कार्य है. इसके साथ ही यह पुलिस प्रशासन और अस्पताल के कर्मचारियों की भी लापरवाही है. उन्होंने कहा कि सरकार शव की अंत्येष्टि के लिए 2000 रुपए देती है. उसके बाद भी इस तरह के मामले सामने आ रहे हैं. अस्पताल प्रशासन ने मामले को गंभीरता से लिया है.

स्वास्थ्य विभाग ने लिया मामले पर संज्ञान

एसकेएमसीएच में नर कंकाल मिलने के मामले पर स्वास्थ्य विभाग ने तुरंत संज्ञान लिया है. स्वास्थ्य विभाग के एडिशनल सेक्रेटरी कौशल किशोर ने अधीक्षक के साथ बैठक की है. डीएम आलोक रंजन घोष ने भी मामले पर रिपोर्ट तलब की है. इसके अलावा मौके पर पहुंची पुलिस ने हालात का जायजा लिया. सीटी एसपी और एसडीएम भी मौके पर मौजुद थे.

Team Report