इंसेफेलाइटीस का प्रकोप अब छत्तीसगढ़ मे भी,एक मासूम की मौत,दो की हालत गंभीर-

अरविन्द तिवारी की रिपोर्ट

रायपुर — बिहार में सैकड़ों बच्चों की जान लेने के बाद अब चमकी बुखार छत्तीसगढ़ में भी दस्तक दे दी है | बस्तर में चमकी बुखार से जहाँ एक बच्चे की मौत हो चुकी है, वही दो बच्चों का ईलाज चल रहा है । छतीसगगढ़ में पहली बार एक्यूट इंसेफेलाइटिस सिंड्रोम के मरीज़ मिलने के बाद स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने चमकी बुखार को लेकर अलर्ट जारी कर दिया है | मंत्री टीएस सिंहदेव ने मीडिया से चर्चा करते हुये कहा कि प्रदेश में हालत ना बिगड़े इसलिये अलर्ट जारी कर दिया गया है | रायपुर से डाक्टरों की टीम जगदलपुर रवाना कर दिया गया है | जानकारी या इलाज के आभाव में एक भी बच्चे की मौत नहीं होनी चाहिये|
गौरतलब है कि बस्तर में तीन बच्चों में चमकी बुखार की लक्षण मिलने के बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था जहाँ ईलाज के दौरान एक बच्चे की मौत हो गई है, वही अभी दो बच्चों का ईलाज चल रहा है | बस्तर के चोलनार गाँव से मासूम भूवाने नाग (4 साल ) को गम्भीर अवस्था में मेडिकल कोलेज में भर्ती करवाया गया है। जाँच रिपोर्ट में जेइ के आलावा एक्यूट इंसेफेलाइटिस सिंड्रोम के लक्षण मिले हैं। अन्य दो बच्चे कुमार मंडावी ( सात वर्ष ) ईतियासा (तीन वर्ष ) हैं जो किलेपाल और परपा से आये हैं। इन दोनों की सेहत में सुधार हो रहा है ।