इंसेफेलाइटिस पीड़ित बच्चों को बचाने मुजफ्फरपुर पहुंच चुके हैं डा०कफील खान,मदद के लिए आगे आ रहे है लोग-

पटना-डा० कफील खान -> बीते साल यह नाम इतने सुर्खियों में रहा कि डा० कफील खान किसी परिचय के मोहताज नहीं है.हाँ ये वही डा० कफील खान है जो गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कॉलेज ऑक्सीजन कांड,जिस में ऑक्सीजन की कमी से कई बच्चों की मौत हुई थी उस वक्त चर्चा में आए थे.कुछ लोगों ने इनके काम को सराहा तो कुछ लोगों ने घिनौने आरोप भी लगाए.बाद में उन्होंने उस ऑक्सीजन कांड के लिए सुबे की योगी सरकार को जिम्मेदार ठहराया,जिसके बाद कानूनी प्रक्रियाओं से गुजरते हुए उन्हें लगभग 7 महीने जेल में भी बिताने पड़े.अप्रैल 2018 में उन्हें इलाहाबाद हाई कोर्ट ने जमानत दी,और उनके निलंबन के संबंध में भी सुप्रीम कोर्ट ने राज्य सरकार को उनके बकाया देयकों के भुगतान के संबंध में आदेश दिए है.बरहाल ताजा मामला यह है कि डा० कफील खान अपनी टीम के साथ मुजफ्फरपुर पहुंच चुके हैं.गौरतलब है कि मुजफ्फरपुर इस समय इंसेफेलाइटीस से सबसे ज्यादा प्रभावित जिलों में से एक है.डॉक्टर खान ने यहां अपना कैंप लगाया है और नि:शुल्क पीड़ित बच्चों का इलाज कर रहे हैं.अब तक डा० खान के कैंप से लगभग 300 बच्चों का चेकअप करने के बाद दवाइयां दी गई है.उनकी टीम में डा०अरशद अंजुम,डा० एन आजम और डा०आशीष कुमार भी शामिल है.इंसेफेलाइटिस पीड़ित बच्चों को बचाने के प्रयास में कई लोग मदद के लिए आगे आ रहे हैं,डा० खान उनसे पैसे की बजाय दवाइयां भेजने की अपील कर रहे हैं.