आज सदन में मोदी ने दिया जवाब-

अरविन्द तिवारी की रिपोर्ट

नई दिल्ली– राष्ट्रपति के अभिभाषण पर लोकसभा में जवाब देते हुये आज प्रधानमंत्री मोदी ने धन्यवाद प्रस्ताव पर कहा कि इस प्रस्ताव का धन्यवाद देश की जनता का धन्यवाद है। एक सशक्त, सुरक्षित राष्ट्र का सपना हमारे देश के अनेकों महापुरुषों ने देखा है और उसे पूरा करने के लिये अधिक गति के साथ हम सबको मिलकर आगे बढ़ना है। आज के वैश्विक वातावरण में भारत को यह अवसर खोना नहीं चाहिये। देश की आकांक्षाओं को पूरा करने में आने वाली हर चुनौती को हम पार कर सकते हैं। इस चर्चा में करीब 60 सांसदों ने हिस्सा लिया जो पहली बार आये हैं उन्होंने अच्छे ढंग से अपनी बात रखी और चर्चा को सार्थक बनाने का काम किया।

प्रधानमंत्री मोदी ने लोकसभा में कहा कि हम सभी मनुष्य हैं और जो छाप मन पर रहती है और उसका निकलना कठिन रहता है. चुनावी भाषण का असर यहां नजर आया और वही बातें सुनने को मिल रही थीं. पीएम मोदी ने कहा कि स्पीकर ने ठीक ढंग से इस चर्चा को आगे बढ़ाया बावजूद इसके आप सदन में नये हैं और नये को सदस्य परेशानी में डालने की कोशिश करते हैं। कई दशकों बाद देश ने एक मजबूत जनादेश दिया है। पीएम मोदी ने कहा कि मतदाता अपने से ज्यादा अपने देश के लिए फैसले करता है यह बात इस चुनाव में नजर आयी है। देश के मतदाता अभिनंदन के अधिकारी हैं. 2014 में हम पूरी तरह नये थे , देश के लिये अपरिचित थे लेकिन उस हालात से बाहर निकलने के लिये देश ने एक प्रयोग के रूप में हमें मौका दिया। लेकिन 2019 का जनादेश पूरी तरह का कसौटी पर कसने के बाद, हर तराजू पर तौले जाने के बाद, जांच-परखने के बाद हमें मिला है।